***The Sunset***

इस सूरज की भी अजीब कहानी है रोज़ पूरब से सफर शुरू करता है और एक ही मंजिल पश्चिम,

Advertisements

मैं मनाऊँ खुशियाँ जम जम

मैं तेरे संग संग रहूँगा , आप ज़िधर भी जाये संग चलुँगा हो मैं तेरे संग संग रहूँगा (लक्षमन)

बंधुआ मजदूर

भोर हुई नैनो से पलके उठ गयी फिर भी नैना सोई रही पग मोरे भुइयाँ पे तेजी से सरपट दौड़ रहे है मगर